राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और मायावती ने विकास दुबे एनकाउं’टर पर उठाये ये बड़े सवाल

विकास दुबे एनकाउं’टर मामले में एक के बाद एक प्रतिक्रियाएं सामने आ रही है. अखिलेश यादव, मायावती, प्रियंका गांधी के बाद अब राहुल गांधी ने एक ट्वीट किया है. जिसे इस मामले से जोड़कर देखा जा रहा है. राहुल गांधी ने इशारों में ही विकास दुबे का एनकाउं’टर करके कई लोगों को बचा’ने का आ’रोप लगाया.

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में एक शेर के जरिए कहा, ‘कई जवाबों से अच्छी है ख़ामोशी उसकी, न जाने कितने सवालों की आ’बरू रख ली.’

राहुल गांधी का यह ट्वीट विकास दुबे के एनकाउं’टर को देखकर जो’ड़ रहे हैं. अखिलेश यादव समेत कई विपक्षी नेता विकास दुबे के एनकाउं’टर पर सवाल उठाते हुए कहा कि विकास का एनकाउं’टर उसकी मदद कर रहे कई लोगों को बचाने के लिए किया गया है.

प्रियंका गांधी ने भी उठाए सवाल

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने भी एनकाउं’टर पर सवाल उठाते हुए कहा कि अपरा’धी का खात्मा हो गया है लेकिन अपरा’धी को सं’रक्षण देने वा’लों का क्या होगा?

अखिलेश यादव ने कहा कि कार पल’टी नहीं…

वहीं यूपी के पूर्व सीएम सपा नेता अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए योगी सरकार पर सवा’ल उठाए. ‘कार पल’टी नहीं है, राज़ खुलने से सरकार पल’टने से बचाई गई है.’

मायावती ने एनकाउं’टर की जांच की मांग की

बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने भी विकास दुबे के एनकाउं’टर पर सवाल उठाए हैं. मायावती ने कहा, ‘कानपुर पुलिस ह’त्याका’ण्ड की तथा साथ ही इसके मुख्य आ’रोपी दु’र्दान्त विकास दुबे को मध्यप्रदेश से कानपुर लाते समय आज पुलिस की गाड़ी के पल’टने व उसके भागने पर यूपी पुलिस द्वारा उसे मा’र गि’राए जाने आदि के समस्त मामलों की माननीय सुप्रीम कोर्ट की निग’रानी में निष्प’क्ष जांच होनी चाहिए.

मध्य प्रदेश के उज्जैन से विकास को पकड़ा गया था

बता दें कि विकास दुबे को 9 जुलाई को मध्य प्रदेश में उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्ता’र किया गया था. जिसके बाद रात में यूपी पुलिस एसटी’एफ सड़क के रास्ते उसे लेकर कानपुर आ रहा था. पुलिस के मुताबिक शुक्रवार सुबह कानपुर टोल नाके के 25 किलोमीटर पहले उसकी का’र पलट गई. जिसके बाद उसने पुलिस का पिस्ट’ल छी’नकर भागने की कोशिश की, जवा’बी का’र्रवाई में मा’रा गया.