कानपूर में विकास दुबे के एनकाउं’टर पर लोगों ने इस तरह से कसे तं’ज

उत्तर प्रदेश के कानपुर में 8 पुलि’सकर्मि’यों की ह’त्या के मामले में मुख्य आ’रोपी गैं’गस्टर विका’स दुबे आज एक मु’ठभेड़ में मा’रा गया है. कानपुर के हैलट अस्पताल ने बताया, विकास को चा’र गो’लियां लगी थी.

ती’न गो’लियां सी’ने के आ’सपास लगी थी और एक गो’ली हा’थ पर लगी थी. मुठभे’ड़ के बाद विका’स को का’नपुर के हैलट अस्पताल ले जाया गया था. GSVM मेडिकल कॉलेज के प्रधानाचार्य आरबी कमल ने ये भी बताया, विकास अस्पताल पहुंचने तक म’र चुका था.

अभी तक हालांकि गैं’गस्टर के परिवार का कोई भी सदस्य उसकी मौ’त की खबर सुनने के बाद अस्पताल नहीं पहुंचा है. दुबे की मां सरला दुबे लखनऊ में है, लेकिन उन्होंने मी’डियाकर्मियों से मिलने से मना कर दिया है.

कृष्णा नगर क्षेत्र में लखनऊ आवास के बाहर कई पुलि’सकर्मियों को तैना’त किया गया है. विकास दुबे का भाई दीप प्रकाश दुबे फरा’र है. विकास की पत्नी ऋचा दुबे और बेटे को एसटी’एफ अपने साथ ले गई थी और दोनों कानपुर में पु’लिस लाइन में हैं.

कैसे मा’रा गया विकास दुबे

पुलि’स के अनुसार उज्जैन से कानपुर लाते समय हुए स’ड़क हा’दसे में एक पु’लिस वा’हन के पल’टने के बाद दुबे ने भा’गने का प्रयास किया, जिसके बाद मुठभे’ड़ में वह मा’रा गया. वहीं, पुलिस वा’हन पल’टने से पुलि’स निरीक्षक सहित चार पु’लिसकर्मी घा’यल भी हो गए, जिनमें से एक की हा’लत गंभी’र है.

कानपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने बताया कि सड़’क दुर्घ’टना सुबह हुई. उन्होंने कहा “तेज बा’रिश हो रही थी. पुलिस ने गा’ड़ी तेज भ’गा’ने की कोशिश की जिससे वह डिवा’इडर से टकरा’कर पल’ट गयी और उसमें बैठे पुलि’सकर्मी घा’यल हो गए. उसी मौ’के का फा’यदा उठाकर दुबे ने पु’लिस के एक जवान की पिस्तौ’ल छी’नकर भा’गने की को’शिश की और कुछ दू’र भाग भी गया.”

कुमार ने कहा, “तभी पी’छे से एस्कॉ’र्ट कर रहे एस’टीएफ के जवा’नों ने उसे गिरफ्ता’र क’रने की कोशिश की और उसी दौ’रान उसने एस’टीएफ पर गो’ली च’ला दी जिसके जवा’ब में जवा’नों ने भी गो’ली चला’ई और वह घा’यल होकर गिर पड़ा. हमारे जवा’न उसे अस्पता’ल लेकर गए जहां इलाज के दौरा’न उसकी मौ’त हो गई.”

उत्‍तर प्रदेश पु’लिस के आठ जवा’नों की ह’त्‍या का मुख्‍य आ’रोपी विकास दुबे की एन’काउंट’र में मौ’त हो चुकी है। यूपी एसटी’एफ की गाड़ी विकास को लेकर कानपुर आ रही थी। बारिश तेज थी। रोड पर पर फिसल’न।

पुलिस के मुता’बिक, बर्रा के पास अचा’नक रा’स्‍ते में गा’ड़ी पल’ट गई। मौका पाकर उसने एसटीएफ के एक अधिकारी की पिस्ट’ल छी’नकर भा’गने की कोशिश की। फिर मुठभे’ड़ शुरू हुई। एसटी’एफ ने विकास से हथिया’र रखकर सरेंड’र करने को कहा।

वह इसके बावजूद नहीं माना तो पुलि’स ने एनका’उंटर कर दिया। जैसे ही यह खबर सा’मने आई सो’शल मीडिया पर लोगों ने अपनी राय रखनी शुरू कर दी। ट्विटर पर मा’मला ट्रेंड कर रहा है।