यूपी: सपा-रालोद गठबंधन की प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी, अखिलेश ने जताया मुस्लिमों पर भरोसा

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए लिए समाजवादी पार्टी और आरएलडी ने अपने प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर दी है। दोनों दलों ने साझा सूची जारी की है। जिसमें कुल 29 नाम हैं।

लिस्ट में सपा के 10 और रालोद के 19 उम्मीदवारों के नाम हैं। काफी समय से रालोद और सपा में सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही थी और तनातनी की भी खबरें आई थीं। इस लिस्ट को देखें तो साफ है कि जयंत और अखिलेश ने इससे एक दोस्ती और ‘सबकुछ ठीक’ का मैसेज देने की कोशिश की है।

लोकदल ने सपा के दो नेताओं को टिकट दिया

सपा और लोकदल की इस लिस्ट में कुछ नाम ध्यान खींचने वाले हैं। दरअसल राष्ट्रीय लोकदल ने सपा के भी कुछ नेताओं को अपने सिंबल पर उतारा है। ये हैं पुरकाजी से टिकट पाए अनिल कुमार और खतौली से उम्मीदवार बनाए गए राजपाल सैनी।

बसपा से दो बार विधायक रह चुके अनिल कुमार करीब तीन साल से सपा में हैं । वहीं पूर्व सांसद राजपाल सैनी भी सपा के नेता हैं। दोनों को ही जयंत चौधरी ने टिकट दिया है। इसे वोट ट्रांसफर सुनिश्चित करने और दोस्ती का पैगाम देने की कोशिश माना जा रहा है।

पुराने नेताओं, दूसरे दलों से आने वालों को भी जयंत ने दिए टिकट

जयंत चौधरी ने पुराने नेताओं पर भरोसा जताया है तो दूसरे दलों से आए नेताओं को भी टिकट दिए हैं। बागपत से अजित सिंह के करीबी रहे कोकब हमीद के बेटे अहमद हमीद पर उन्होंने भरोसा जताया है। मोदीनगर से पार्टी के पुराने नेता सुदेश शर्मा को टिकट दिया है। नटहौर से मुंशीराम पर उन्होंने भरोस जताया है।

दूसरे दलों से आए नेताओं की बात की जाए तो शामली से भाजपा से आए प्रसन्न चौधरी को टिकट दिया है। गुरुवार को ही रालोद में शामिल हुए कांग्रेस नेता गजराज सिंह को हापुड़ से पार्टी ने टिकट दिया है।

जेवर से अवतार भड़ाना और बुलंदशहर से हाजी युनूस को टिकट मिला है। दोनों हाल ही में पार्टी में आए हैं। राष्ट्रीय लोकदल ने अपनी लिस्ट में मुसलमान, जाट, ब्राह्राण, सैनी, दलित सभी को साधने की कोशिश की है।

सपा ने भी पुराने चेहरों पर जताया भरोसा

समाजवादी पार्टी की ओर से फिलहाल 10 नामों का ऐलान किया गया है। इसमें कैराना और मेरठ से मौजूदा विधायकों नाहिद हसन और रफीक अंसारी को फिर से कैंडिडेट बनाया गया है। किठौर से एक बार फिर शाहिद मंजूर को टिकट दिया है।

शाहिद तीन बार इस सीट से सपा से विधायक रह चुके हैं। चरथावल में कांग्रेस से आए पंकज मलिक को सपा लड़ा रही है। वहीं धौलाना से बसपा से आए असलम चौधरी को टिकट दिया गया है। पश्चिम में सपा मुसलमानों पर विश्वास जता रही है। उसके 10 में से छह कैंडिडेट मुसलमान हैं।