पुलिसवालों ने मंदिर में गलती से करवा दी भाई और बहन की शादी, फिर जो हुआ वास्तव में चौकाने वाला था

दोस्तों यह मामला पांची गाँव का है जहाँ एक युवती का धर्म परिवर्तन कर दुसरे समुदाय के युवक से शादी करने की सुचना मिलने पर हंगामा हो गया| पुलिस ने मौके पर ही दो युवक और दो युवती को हिरासत में ले लिया| मामले की जांच करने से पता चला कि ममेरे भाई-बहन के बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा है और बाद में दुल्हन ने कहा की वह अपने मामा के लड़के से ही शादी कर लेगी और पुलिस वालो ने थाना परिसर में बने मंदिर में ही उन दोनों की शादी करा दी|

जानकारी के अनुसार यह घटना पांची गाँव की है जहाँ एक लड़की अपने ननिहाल में गयी हुई थी| जहाँ उसका दुसरे समुदाय के एक युवक के साथ प्रेम-प्रसंग हो गया और जब उसक लड़की के ममेरे भाई को इस बात का पता चला तो उसने भी प्रेमी के साथ ही शादी कराने का वादा किया|

इसके बाद जब गाँव के लोगो को सुचना मिली कि एक लड़की का धर्म परिवर्तन कर दुसरे समुदाय के लडके के साथ उसका निकाह किया जा रहा है यह खबर मिलते है गाँव के लोग दौड़ पड़े और एक युवक की पिटाई भी कर दी|

सुचना मिलने पर एसएसआई मौके पर पहुंचे और दुल्हन और उसके परिजन और दुसरे समुदाय के लोगो को थाने में ले गये| इसी बीच गाँव वालो ने थाना घेर लिय और ऐलान कर दिया कि अगर दुसरे समुदाय के लड़के से शादी हुई तो इसकी जिम्मेदार खुद पुलिस ही होगी| इसके बाद दुल्हन ने कहा कि वह अपने मामा के लडके से ही शादी कर लेगी और पुलिस ने मंदिर में ले जाकर उन दोनों की शादी करवा दी|

इसके बाद पुलिस ने दुसरे समुदाय के लड़के को छोड़ दिया जिससे शादी होनी थी और अन्य सभी लोगो को भी छोड़ दिया| एसएसआई का कहना है कि यह लड़की अपने मामा के लडके से ही शादी कराना चाह रही थी और दुसरे समुदाय का युवक तो सिर्फ उसका दोस्त था|