नि’धन से ठीक पहले आज तक के शो दंगल पर पर राजीव त्यागी की हुई थी गर’मागर’म डिबेट, वायरल हो रहा ये विडियो

कांग्रेस के तेज तर्रार प्रवक्ता राजीव त्यागी का बुधवार को दिल का दौ’रा पड़ने के चलते नि’धन हो गया। वह 50 साल के थे। राजीव त्यागी की तबि’यत एक टीवी डिबेट के बाद बिग’ड़ी और वह दुनिया को अल’विदा कह गए।

राजीव त्यागी आखिरी बार हिंदी न्यूज चैनल आजतक पर एक डिबेट में शामिल हुए थे। इस दौरान बेंगलुरु हिंसा को लेकर उनकी संबित पात्रा के साथ ग’रमाग’रम बहस भी हुई थी। शो पर उन्होंने एक मुस्लि’म स्कॉ’लर को भी ल’ताड़ लगाई थी।

दरअसल,  बेंगलुरु में फेसबुक पोस्ट को लेकर हुई हिं’सा पर वह कांग्रेस का म’त रख रहे थे।

टीवी एंकर ने कहा कि बेंगलुरु हिं’सा में कांग्रेस विधायक का नाम आया है , वो द’लित थे। ना कोई दलित चिंत’क बोला, ना संविधान को जब सड़कों पर रौं’दा जा रहा था कोई संविधान का ठेके’दार बाहर निकला और अभि’व्यक्ति की आजादी तो भूल ही जाइए क्यों’कि ध’र्म का मा’मला आ गया तो अभि’व्यक्ति की आ’जादी वैसे ही ड’ब्बे में चली जाती है।

इस  पर राजीव त्यागी ने कहा, देखिए सबसे पहले मैं स्पष्ट कर दूं कि किसी भी संस्था या किसी भी व्यक्ति द्वारा की गई हिं’सा की कांग्रेस निं’दा करती है और सरका’र से सि’र्फ इतना ही कहना चाहती है कि जो भी दो’षी है उनको सजा मिलनी चाहिए। दो’षी चाहे कोई भी हो लेफ्ट विं’ग का हो राइट विंग का हो या कोई भी हो।

इसके बाद उन्होंने कहा कि अब मैं संबित पात्रा और इस्ला’मिक स्कॉलर की बातों पर आता हूं। ये जो इस्लामिक स्कॉ’लर हैं ये इस्ला’मिक स्कॉ’लर नहीं है। अगर होते तो इन्हें कुरान की शिक्षा की जानकारी होती। जिन शिक्षाओं में प्रेम और सौहार्द्र की बात कही गई है  इन बातों को बताते लेकिन वो तो कह रहे हैं कि पीएफआई और जो संस्थाएं है वो मुस्लिमों के लिए ल’ड़ रही हैं। भईया ल’ड़ने की कोई जरूरत नहीं है। देश में संविधान है। उसके अनुसार लड़े।

इसके अलावा संबित पात्रा को लेकर उन्होंने कहा कि संबित पात्रा का कहने के ये मतलब है कि हिं’दुओं पर बड़ा अ’त्या’चार हो रहा है जबकि हिं’दूवा’दी सर’कार है। तैमूर लं’ग, मोहम्मद गजनवी, अंग्रेज, ड’च पता नहीं कौ’न- कौ’न आए लेकिन हिं’दू ध’र्म को ख’त्म नहीं कर पाए, पता नहीं 2014 से हिंदू ध’र्म पर कितना आ’क्रमण हो रहा है। बेह’तर होगा कि हिंदु’ओं को रोजगार दे दो, उन्हें शि’क्षा दे दो।

राजीव त्यागी के नि’धन पर रा’जनीति’क गलिया’रे में शो’क की ल’हर दौ’ड़ गई। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस ने आज अपना एक बब्बर शेर खो दिया।

राजीव त्यागी के कॉंग्रेस प्रेम व संघ’र्ष की प्रेरणा हमेशा याद रहेंगे। उन्हें मेरी भा’वभीनी श्रद्धां’जलि व परिवार को संवे’दनाएं। इसके अला’वा अन्य पा’र्टियों के लोगों ने भी राजीव त्यागी के नि’धन पर शो’क संवे’दनाएं जा’हिर की हैं।