भारत रत्न डॉ. कलाम की जयंती पर पूरा देश कर रहा सलाम, PM मोदी ने कही ये बात

आज पूरा देश पूर्व राष्ट्रपति और महान वैज्ञानिक डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को याद कर रहा है। आज पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम की जयंती है। उनका जन्म 15 अक्तूबर, 1931 तमिलनाडु रामेश्वरम में हुआ था। यह बात शायद ही आपको पता हो, लेकिन भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम वैज्ञानिक नहीं बल्कि पायलट बनना चाहते थे।

कलाम साहब की जंयती के अवसर पर देश के कई दिग्गज उन्हें सलाम कर रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत कई अन्य कई केंद्रीय मंत्रियों ने ट्वीट के जरिए डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को याद किया है.

उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की जयंती पर उन्हें याद किया और ‘सपनों को साकार’ करने के उनके कथन का भी स्मरण किया. कलाम को ‘जनता का राष्ट्रपति’ बताते हुए नायडू ने कहा कि वह सादगी और ज्ञान की प्रतिमूर्ति थे.

उप राष्ट्रपति कार्यालय ने नायडू के हवाले से ट्वीट किया, “भारत की रक्षा और अंतरिक्ष क्षमताओं को मजबूत करने में उनका अमूल्य योगदान रहा है. वह हर भारतीय के लिए हमेशा प्रेरणास्रोत रहेंगे.”

पीएम मोदी ने ट्वीट करके कहा, “डॉ. कलाम को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि. भारत राष्ट्रीय विकास के प्रति उनके अमिट योगदान को कभी नहीं भूल सकता, चाहे वो एक वैज्ञानिक या फिर भारत के राष्ट्रपति के तौर पर रहा हो. उनका जीवन यात्रा लाखों लोगों को ताकत देता है.”

अमित शाह ने अपने ट्वीट में लिखा, “डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को उनकी जयंती पर नमन. एक विजनरी लीडर, भारत के स्पेस और मिसाइल प्रोग्राम को गढ़ने वाले, जो हमेशा ही एक मजबूत और आत्मनिर्भर भारत बनाना चाहते थे. विज्ञान और शिक्षा के क्षेत्र में उनका योगदान सभी के लिए प्रेरणादायी है.”

रक्षा मंत्री राजनाथ ने लिखा, “पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को उनकी जयंती पर नमन. नए और मजबूत भारत के सपने को साकार करने के लिए प्रतिबद्ध, कलाम साहब ने अपना पूरा जीवन भारत के भविष्य के निर्माण के लिए समर्पित कर दिया. वह हमारी आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करते रहेंगे. उनकी जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देता हूं.”