बालो को काला बनाये, पथरी को गलाए, मधुमेह में लाभ तोरी के फायदे जान चौक जायेगे आप

इन्सान को जावा और स्वस्थ रखने के लिए प्रक्रति ने हमे हरी सब्जिया दी है हरी सब्जिया हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है यह आपको बहुत सी बीमारियों से बचाती है

आपने देखा भी होगा गावो में तोरी के बड़े ही चाव से खाया जाता है वो लोग अपने घर में भी तोरी की खेती करते है तोरी को खाने से शरीर में किसी भी तरह की कोई दिक्कत नही होती और सब्जी घर में उगने के कारण वो उसे ताजी ही बना कर खाते है

तोरी में विटामिन A , विटामिन C , विटामिन B समूह के रिबोफ्लेविन , थायमिन , फोलेट , नियासिन आदि होते है। कुछ मात्रा में आयोडीन और फ़्लोरिन भी पाए जाते हैं ।

आज हम आपको तोरी खाने के लाभों के बारे में बतायगे-

बालो को काला बनाये-
आपको सुन कर थोड़ी हैरानी होगी की तोरी की सब्जी से बालो को काला बना सकते है लेकिन यही सच है तोरी को छोटे छोटे टुकडो में काट ले और अब इन्हें सुखा ले सुखाने के बाद आप इन्हें किसी नारियल तेल की सीसी में डाल ले और अब इसे ३-4 दिन तक रखा रहने दे अब जब भी प्रयोग करना हो गुनगुना कर के ही इसका प्रयोग करे यदि आप इसका ऐसे ही महीनो तक प्रयोग करते रहे तो आपको बहुत जल्दी परिणाम मिलेगा की आपके बाल काले हो गये है

मधुमेह में लाभ-
मधुमेह में भी तोरी बहुत अधिक फायदे पहुंचाती है तोरी का सेवन करने से आप मधुमेह से भी बचे रहते है और यदि किसी को मधुमेह की दिक्कत है तो वह भी तोरी के सेवन से और अधिक नही बढती यह ब्लड शुगर को कण्ट्रोल करती है

पेट की बीमारियों के लिए-
पाचन तंत्र में खराबी के कारण शरीर में बहुत से रोग लग जाते है यदि आप तोरी का सेवन करते है तो आपको ऐसे कोई भी दिक्कत नही होती और आपका पेट एक दम स्वस्थ रहता है क्योकि तोरी खाने में बहुत ही हल्की होती है जिससे पेट में गैस नही बनती

खून साफ़ करना-
तोरी आपके खून को साफ़ करती है और आपके शरीर की खून की कमी को पूरा करती है

पथरी-
तोरई की बेल गाय के दूध या ठंडे पानी में घिसकर रोज सुबह के समय में 3 दिन तक पीने से पथरी गलकर खत्म होने लगती है।

कब्ज मे लाभ-
तोरी के फाइबर कब्ज में आराम पहुंचाते है इसके नियमित प्रयोग से piles में लाभ मिलता है

कुष्ठ रोग में लाभ-
तोरी की पत्तिया पिस कर इसमें लहसुन मिलाकर लगाने से कुष्ठ रोग में आराम मिलता है

बीजो के तेल-
तोरी के बीजो से निकला तेल त्वचा के रोगों के लिए बहुत ही फायदेमंद है

कीड़ो के काटने की सूजन-
तोरी के पत्तो से निकला रस कीड़े मकोडो के काटने से आने वाली सूजन को कम करता है

पानी की पूर्ति-
तोरी में पानी अधिक मात्रा में होता है और फाइबर भी अच्छी मात्रा में पाया जाता है जिसके कारण यह वजन कम करने में सहायक है

फोड़े की गांठ-
तोरी की जड़ को ठंडे पानी में घिसकर फोड़ें की गांठ पर लगाने से 1 दिन में फोड़ें की गांठ खत्म होने लगता है अजमा कर देखिये फर्क दिखने लगेगा