बंगाल के जलपाईगुड़ी में बड़ा हादसा: बीकानेर से गुवाहाटी जा रही ट्रेन पटरी से उतरी, 5 लोगों की मौत, कई घायल

बंगाल के जलपाईगुड़ी में गुरुवार शाम 5 बजे बड़ा ट्रेन हादसा हो गया। बीकानेर-गुवाहाटी एक्सप्रेस जलपाईगुड़ी के डोमोहानी के पास मोएनोगुड़ी में पटरी से उतर गई। हादसे में 5 लोगों की मौत हो गई।

जलपाईगुडी DM ने इसकी पुष्टि की है। कई यात्रियों के डिब्बों में फंसे होने की आशंका है, जिन्हें रेस्क्यू करने के लिए ऑपरेशन जारी है। अब तक 40 लोगों को रेस्क्यू किया गया है। अंधेरे की वजह से बचाव अभियान में मुश्किल आ रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे के तुरंत बाद बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से फोन पर बात की है। बीकानेर एक्सप्रेस मंगलवार की रात राजस्थान के बीकानेर से रवाना हुई थी। गुरुवार सुबह 5.44 बजे ट्रेन पटना रेलवे स्टेशन से गुवाहाटी के लिए रवाना हुई थी।

पीएम मोदी ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से बात की और पश्चिम बंगाल में ट्रेन दुर्घटना के मद्देनजर स्थिति का जायजा लिया।

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य के आला अधिकारी रेस्क्यू ऑपरेशन पर नजर रख रहे हैं। घायलों को जल्द से जल्द स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराई गई है।

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव रेस्क्यू ऑपरेशन का जायजा लेने और घायलों का हाल जानने जलपाईगुड़ी जाएंगे।

रेलवे ने इमरजेंसी नंबर 8134054999 जारी किया है।

दो हेल्पलाइन नंबर 036-2731622 और 036-2731623 जारी किए हैं।

ट्रेन में 1200 यात्री थे। पटना से 98, मोकामा से 3 और बख्तियारपुर से 2 यात्री सवार हुए थे।

NDRF की दो टीमें और एक रेस्क्यू टीम जलपाईगुड़ी रवाना की गई है।

20 से ज्यादा लोग घायल हैं। इनमें से 15 को अस्पताल भेजा गया है।

गैस कटर के जरिए डिब्बों में फंसे हुए लोगों को निकाला जा रहा है।

रेलवे ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख, गंभीर रूप से घायलों को एक लाख और कम गंभीर लोगों को 25 हजार रुपए का मुआवजा देने का ऐलान किया है।

राजस्थान से 247 लोग गुवाहाटी के लिए रवाना हुए थे। (पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें)

हादसे की तस्वीरें और वीडियो भी सामने आए हैं। इनमें ट्रेन के डिब्बे पटरी से उतरे दिखाई दे रहे हैं। रेस्क्यू टीम भी फंसे हुए लोगों को बचाती हुई दिखाई दे रही है।