250 साल बाद शनि जंयती पर बन रहा है दुर्लभ संयोग, 15 मई के दिन राशिनुसार करें ये खास उपाय

शनि अमावस्या पर इस बार विशेष संयोग सहित कई दुर्लभ संयोग बन रहे हैं। शनि अमावस्या इस बार 15 मई 2018 (मंगलवार) को पड़ रही है। ज्योतिषी पंडित धनंजय पाण्डेय के अनुसार इस शनि अमावस्या का विशेष महत्व है। क्योंकि इस बार कई दुर्लभ संयोग एक साथ बन रहे हैं। इस शनि अमावस्या के दिन सर्वार्थसिद्धि योग, वट सावित्री, भौमवती अमावस्या और शनि जयंती का का दुर्लभ संयोग बन रहा है।

ज्येष्ठ मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या भी पड़ रही है। शनि जयंती के अवसर पर शनि हमेशा वक्री अवस्था में होते हैं। इस बार शनि जयंती पर दुर्लभ योग बन रहे हैं। हनुमान जी को समर्पित मंगलवार के दिन शनि जंयती आएगी। इस दिन पर मंगल ग्रह का भी अधिपत्य स्थापित है।

वर्तमान समय में मंगल अपनी उच्च राशि मकर में हैं। शनि जयंती 250 साल बाद इस दिन आई है। आज से पहले 30 मई 1813 में ये मंगलवार को आई थी। तब भी मंगल, केतु के साथ मकर राशि में और राहु कर्क राशि में थे और बुध मेष में थे। 2018 में शनि धनु राशि में वक्री चल रहे हैं। आज से 29 वर्ष पूर्व भी शनि धनु राशि में थे जब शनि जयंती मनाई गई थी।

मंगल के साथ शनिदेव का संबंध समझने योग्य है। मंगल और शनि के बीच वैसे तो वैर भाव रहता है, लेकिन फिर भी शनिदेव हनुमान जी के भक्तों को किसी प्रकार का कष्ट नहीं देते और न ही उनके किसी काम में अडंगा लगाते हैं। आज के दिन संकटनाशक हनुमानष्टक में दिये मंत्रों का भी जाप करना चाहिए। तो आज के दिन विभिन्न राशि वालों को अलग-अलग फलों की प्राप्ति के लिये हनुमान जी के निमित्त किन पंक्तियों का जाप करना चाहिए। जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से

मेष राशि
अगर आप जीवन में राज्य अधिकार, हर प्रकार की समृद्धि आदि पाना चाहते हैं, तो आज के दिन मत्तगयंद छंद में रचित संकटमोचन हनुमानष्टक की इन पंक्तियों का जाप करें-
देवन आनि करी बिनती तब, छाँड़ि दियो रबि कष्ट निवारो,
को नहिं जानत है जग में कपिद, संकटमोचन नाम तिहारो।
आज के दिन संकटमोचन हनुमानष्टक की इन पंक्तियों का जाप करने से आपको जीवन में हर प्रकार का सुख मिलेगा। अगली राशि की चर्चा से पहले आपको आज वट सावित्री व्रत के दिन बरगद की पूजा के बारे में भी बता दूं। आज के दिन सुबह स्नान आदि से निवृत्त होकर सबसे पहले बरगद के पेड़ की जड़ में जल डालना चाहिए।

पेड़ के चारों ओर सात बार सफेद धागा लपेटते हुए परिक्रमा करनी चाहिए और विधि-विधान से उसकी पूजा करनी चाहिए। अगर आप बरगद के पेड़ के पास न जा पाएं, तो बरगद के पेड़ की एक डाली लाकर घर पर ही उसकी पूजा कर लें। यहां एक बात और बता दूं कि जो लोग संतान प्राप्ति की इच्छा रखते हैं, उन्हें आज के दिन बरगद के पेड़ की जड़ में दूध डालना चाहिए, जल्द ही इच्छा पूरी होगी। बरगद की पूजा-अर्चना के बाद, पेड़ के नीचे की मिट्टी लेकर सत्यवान और सावित्री की मूर्ति बनाएं और उनकी सभी उपचारों के साथ पूजा करें। अगर आप मिट्टी की मूर्ति न बना पाएं, तो केवल मानसिक रूप से, यानी आंखें बंद करके मन में ध्यान करते हुए सत्यवान और सावित्री की पूजा करें। फिर यमदेव और नारद जी की भी ध्यानपूर्वक पूजा करनी चाहिए। इस प्रकार पूजा आदि के बाद किसी सुपात्र ब्राह्मण को कुछ दान स्वरूप देना चाहिए और पूरा दिन व्रत का पालन करने के बाद शाम के समय व्रत का पारण करना चाहिए। इस प्रकार वट सावित्री का व्रत समाप्त हो जायेगा।

वृष राशि
अगर आप अपने आपको मानसिक और शारीरिक रूप से हमेशा हष्ट-पुष्ट रखना चाहते हैं और अपनी किस्मत को अपने फेवर में करना चाहते हैं, तो आज के दिन बजरंग बाण में दी गई इन पंक्तियों का जाप करें- धूप देय अरु जपै हमेशा। ताके तन नहिं रहै कलेशा।।
आज के दिन इन पंक्तियों का 51 बार जाप करने से आप मानसिक और शारीरिक रूप से हमेशा हष्ट-पुष्ट रहेंगे और साथ ही आपको अपनी किस्मत का सहयोग भी मिलेगा। अगर आप एक बार में 51 बार जाप नहीं कर सकते, तो आज से शुरू करके 51 दिनों तक रोज एक पंक्ति का जाप करें और हनुमान जी का आशीर्वाद लें।

मिथुन राशि
अगर आपके जीवनसाथी की तरक्की थम सी गई है और अब आपको आगे बढ़ने की कोई किरण नजर नहीं आ रही है, तो आज के दिन बजरंग बाण की इन पंक्तियों का जाप करें।
जनकसुता हरिदास कहावौ। ताकी शपथ विलम्ब न लावो।।
आज के दिन इन पंक्तियों का 11 बार जाप करें। इन पंक्तियों के जाप से निश्चित ही आपके जीवनसाथी की तरक्की फिर से हवा के तेज वेग की तरह आगे बढ़ेगी।

कर्क राशि
अगर आप अपना तेज कायम करना चाहते हैं और समाज में भरपूर यश-सम्मान पाना चाहते हैं, तो ये सब हासिल करने के लिये आज के दिन संकटनाशक हनुमानष्टक की इन पंक्तियों का जाप करें।
लाल देहलाली लसे, अरु धरि लाल लँगूर।
बज्र देह दानव दलन, जय जय जय कपि सूर।।
आज के दिन इन पंक्तियों का जाप करने से आपको समाज में भरपूर यश-सम्मान मिलेगा और आपका तेज कायम रहेगा।

सिंह राशि वालों अगर आप अपनी बौद्धिक क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं और विद्या के क्षेत्र में निपुण होना चाहते हैं, तो आज के दिन बजरंग बाण में दि गई हनुमान जी की इन पंक्तियों का जाप करें।
पूजा जप तप नेम अचारा। नहिं जानत हौं दास तुम्हारा। आज के दिन इन पंक्तियों का 21 बार जाप करने से आपकी बौद्धिक क्षमता में बढ़ोतरी होगी, लिहाजा विद्या के क्षेत्र में आपको निपुणता मिलेगी।कन्या राशि वालों अगर आप जमीन-जायदाद से जुड़े किसी मसले में फंसे हैं या अपना मकान बनाने के लिये आपको दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, तो आज के दिन बजरंग बाण में दी गई इन पंक्तियों का जाप करें।
अब विलम्ब केहि कारण स्वामी। कृपा करहु उर अन्तर्यामी।।
आज के दिन इन पंक्तियों का 11 बार जाप करने से आपको जमीन-जायदाद से जुड़े मामलों से बाहर निकलने में मदद मिलेगी और साथ ही खुद का मकान बनाने में आ रही दिक्कतों से जल्द ही छुटकारा मिलेगा।

तुला राशि वालों अगर आप अपनी नौकरी को लेकर दुविधा में हैं या आपके ऑफिस में नौकरी के किसी पद को लेकर एक साथ बहुत-से दावेदार खड़े हो गए हैं और उठापटक की स्थिति बन रही है, तो ऐसी स्थिति में अपने आपको सेफ जोन में रखने के लिये आज के दिन आप संकटमोचन हनुमानष्टक की इन पंक्तियों का जाप करें।
काज किये बड़ देवन के तुम, बीर महाप्रभु देखि बिचारो,
कौन सो संकट मोर गरीब को, जो तुमसों नहिं जात है टारो।।
आज के दिन मत्तगयंद छंद में लिखी गई हनुमान जी की इन पंक्तियों का जाप करने से आप नौकरी में बन रही दुविधा या उठापटक की स्थिति से बाहर निकलेंगे। नौकरी में सफलता प्राप्त करेंगे।

वृश्चिक राशि वालों अगर आप कुछ दिनों से आर्थिक परेशानियों से जूझ रहे हैं और अब उनसे बाहर निकलना चाहते हैं, तो आज के दिन बजरंग बाण में दी गई इन पंक्तियों का जाप करें।
जै गिरिधर जै जै सुखसागर। सुर समूह समरथ भटनागर।।
आज के दिन हनुमान जी के इन पंक्तियों का जाप करने से आपको आर्थिक परेशानियों से जल्दी ही छुटकारा मिलेगा।

धनु राशि वालों अपने अच्छे स्वास्थ्य के लिये, अपने आपको दुरुस्त रखने के लिये आज के दिन आप मत्तगयंद छंद में लिखे गए संकटमोचन हनुमानष्टक की इन पंक्तियों का जाप करें।
आनि संजीवन हाथ दई तब, लछिमन के तुम प्रान उबारो,
को नहिं जानत है जग में कपि, संकटमोचन नाम तिहारो।।
आज के दिन इन पंक्तियों का जाप करने से आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा और आप दुरुस्त रहेंगे, लिहाजा स्वस्थ रहने से आप ज्यादा काम कर पायेंगे और आपकी आर्थिक स्थिति भी बेहतर होगी।

मकर राशि वालों अगर जीवनसाथी के साथ कुछ दिनों से आपके वैचारिक मतभेद चल रहे हैं और आपकी कोशिशों से वो सुलझ नहीं पा रहे हैं, तो आज के दिन संकटमोचन हनुमानष्टक की इन पंक्तियों का जाप करें।
हेरि थके तट सिंधु सबै तब लाय, सिया-सुधि प्रान उबारो,
को नहिं जानत है जग में कपिद, संकटमोचन नाम तिहारो।।
आज के दिन इन पंक्तियों का जप करने से जीवनसाथी के साथ चल रहे आपके वैचारिक मतभेद जल्द ही सुलझेंगे और आपके बीच प्यार की बहार फिर से बहेगी।

कुंभ राशि वालों अगर आपकी आमदनी अच्छी है, लेकिन आपको अपने बढ़ते खर्चों से छुटकारा नहीं मिल पा रहा है, तो आज के दिन बजरंग बाण में दी गई हनुमान जी की इन पंक्तियों का जप करें।
अपने जन को तुरत उबारो। सुमिरत होय आनन्द हमारो।।
आज के दिन इन पंक्तियों का 31 बार जाप करने से आपकी आमदनी अच्छी रहेगी और आपको अपने बढ़ते खर्चों से जल्द ही छुटकारा मिलेगा।

मीन राशि वालों अगर आप नौकरी में पदोन्नति चाहते हैं, तो अपनी यह इच्छा पूरी करने के लिये आज के दिन बजरंग बाण की इन पंक्तियों का जाप करें।
सीता निरखि परमपद लीन्हा। जाय विभीषण को सुख दीन्हा।।
आज के दिन इन पंक्तियों का जाप करने से जल्दी ही आपको नौकरी में पदोन्नति के अवसर प्राप्त होंगे।